केदारनाथ में सुशोभित होगी आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा - Pahadvasi

केदारनाथ में सुशोभित होगी आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा

 

कृष्णशिला पत्थर से बनी 12 फीट ऊंची प्रतिमा 25 जून को पहुंचेगी गोचर

केदारनाथ मंदिर के पीछे बनी आदि गुरु शंकराचार्य की समाधि पर स्थापित होगी प्रतिमा

पहाड़वासी

देहरादून। उत्तराखंड के चार धामों में से एक प्रमुख धाम श्री केदारनाथ धाम में जल्द ही आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा सुशोभित की जाएगी। मैसूर के मूर्तिकारों द्वारा कृष्णशिला पत्थर से तैयार की 12 फीट ऊंची प्रतिमा 25 जून को गोचर पहुंचेगी। प्रतिमा की चमक के लिए उसे नारियल पानी से पॉलिश किया गया है।

साल 2013 में आई दैवीय आपदा में आदिगुरु शंकराचार्य की समाधि भी बह गई थी। जिसके बाद माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के दिशा निर्देश में केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों के तहत आदिगुरु शंकराचार्य की समाधि विशेष डिजाइन से तैयार की गई है। आदिगुरु शंकराचार्य की समाधि केदारनाथ मंदिर के ठीक पीछे छह मीटर जमीन की खुदाई कर बनाई गई है। समाधि के मध्य में मैसूर के मूर्तिकारों द्वारा तैयार प्रतिमा को सुशोभित किया जाएगा।

पांच पीढ़ियों से मूर्तिकला की विरासत को संजोए हुए मैसूर के मूर्तिकार योगीराज शिल्पी ने अपने पुत्र अरुण के साथ मिलकर मूर्ति का काम पूरा किया है। आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा निर्माण के लिए देश भर के मूर्तिकारों की ओर से अपना मॉडल पेश किया गया था। जिसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय से योगीराज शिल्पी को प्रतिमा तैयार करने के लिए अनुबंध किया गया था।

इस विशेष परियोजना के लिए योगीराज ने कच्चे माल के रूप में लगभग 120 टन पत्थर की खरीद की और छेनी प्रक्रिया को पूरा करने के बाद इसका वजन लगभग 35 टन है। योगीराज ने साल 2020 के सितंबर माह से प्रतिमा बनाने का काम शुरू किया था। मूर्तिकला आदि शंकराचार्य को बैठने की स्थिति में प्रदर्शित करती है।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट श्री केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण का कार्य किया जा रहा है। धाम में आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित होने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। इसके साथ ही श्री केदारनाथ धाम में तीर्थयात्रियों के लिए पर्यटन की दृष्टि से नया आकर्षित स्थल तैयार होगा। जिससे प्रदेश और चारधाम यात्रा से जुड़े व्यापारियों व कारोबारियों को न केवल आर्थिक लाभ होगा बल्कि पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा, ष्भारतीय संस्कृति के विकास एवं संरक्षण में हिंदू दार्शनिक और धर्मगुरु आदि गुरु शंकराचार्य का विशेष योगदान रहा है। मात्र 32 वर्ष के जीवन काल में उन्होंने सनातन धर्म को ओजस्वी शक्ति प्रदान की। श्री केदारनाथ धाम में आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित होने से तीर्थयात्रियों को उनके दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त होगा। इसके लिए हम माननीय प्रधानमंत्री का विशेष आभार व्यक्त करते हैं।

पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा, मूर्तिकार योगराज शिल्पी ने आदिगुरु शंकराचार्य की भव्य प्रतिमा तैयार की है। सेना के बड़े हेलीकॉप्टर से 12 फीट ऊंची आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा 25 जून को गोचर पहुंचेगी। प्रतिमा के लिए जिंदल स्टील की ओर से किए गए सहयोग के लिए हम उनका आभार व्यक्त करते हैं। श्री केदारनाथ धाम में स्थापित होने वाली प्रतिमा पर्यटकों को आकर्षित करने में मील का पत्थर साबित होगी।

 

23 thoughts on “केदारनाथ में सुशोभित होगी आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा

  1. After examine a number of of the blog posts in your website now, and I actually like your means of blogging. I bookmarked it to my bookmark web site record and can be checking again soon. Pls check out my site as effectively and let me know what you think.

  2. There are actually a variety of details like that to take into consideration. That may be a nice point to bring up. I provide the thoughts above as common inspiration however clearly there are questions just like the one you convey up the place a very powerful factor shall be working in trustworthy good faith. I don?t know if finest practices have emerged round issues like that, but I’m positive that your job is clearly identified as a fair game. Both girls and boys feel the impact of just a second抯 pleasure, for the remainder of their lives.

  3. My spouse and i ended up being very more than happy that Raymond could complete his investigation through the entire precious recommendations he had from your very own weblog. It’s not at all simplistic to simply possibly be making a gift of guides which the rest have been selling. And we also know we have got the writer to appreciate because of that. These illustrations you have made, the easy site navigation, the friendships you can give support to instill – it is mostly great, and it’s really facilitating our son and us consider that this content is brilliant, and that’s especially essential. Thank you for all!

  4. Oh my goodness! an incredible article dude. Thanks However I’m experiencing problem with ur rss . Don抰 know why Unable to subscribe to it. Is there anybody getting identical rss downside? Anyone who is aware of kindly respond. Thnkx

  5. There are actually plenty of particulars like that to take into consideration. That is a great level to convey up. I provide the ideas above as basic inspiration however clearly there are questions just like the one you bring up the place an important factor shall be working in sincere good faith. I don?t know if finest practices have emerged round issues like that, however I am positive that your job is clearly recognized as a good game. Each girls and boys feel the influence of only a second抯 pleasure, for the rest of their lives.

  6. After study a couple of of the weblog posts on your website now, and I actually like your approach of blogging. I bookmarked it to my bookmark web site listing and shall be checking again soon. Pls try my web page as well and let me know what you think.

  7. I was more than happy to seek out this internet-site.I wished to thanks for your time for this excellent learn!! I undoubtedly having fun with every little little bit of it and I have you bookmarked to check out new stuff you weblog post.

  8. An interesting discussion is value comment. I feel that you should write more on this topic, it may not be a taboo topic but usually individuals are not sufficient to talk on such topics. To the next. Cheers

  9. After examine a number of of the blog posts in your website now, and I really like your method of blogging. I bookmarked it to my bookmark website record and shall be checking again soon. Pls check out my website as well and let me know what you think.

  10. Youre so cool! I dont suppose Ive read something like this before. So good to seek out someone with some unique thoughts on this subject. realy thanks for starting this up. this web site is something that’s wanted on the net, somebody with a bit originality. useful job for bringing one thing new to the internet!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *