बच्चों का स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता कोरोना गाइडलाइन का पालन करके पढ़ाएं शिक्षकः सीईओ - Pahadvasi

बच्चों का स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता कोरोना गाइडलाइन का पालन करके पढ़ाएं शिक्षकः सीईओ

बच्चों का स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता कोरोना गाइडलाइन का पालन करके पढ़ाएं शिक्षकः सीईओ

पहाडवासी

हरिद्वार। हरिद्वार जिला अकादमिक समूह (डीआरजी) की सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज सेक्टर 1 के सभागार में हुई बैठक में मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज ने कहा कि राज्य सरकार की ओर से कक्षा 9 से 12 के स्कूलों को खोलने का निर्णय लिया है। 16 अगस्त से कक्षा 6 से 8 के स्कूलों को भी खोला जाना प्रस्तावित है। ऐसे में बच्चों के स्वास्थ्य को प्राथमिकता देते हुए किस प्रकार शिक्षण कार्य करना है यह चुनौती है। उन्होंने शैक्षिक मुद्दों पर विमर्श करते हुए कोरोनाकाल में बच्चों की सुरक्षा के साथ बेहतर शिक्षण की रणनीति तैयार करने पर जोर दिया।

मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज ने कहा कि विद्यालयों को एसओपी का पालन करते हुए स्कूल खोले जाएं। उन्होंने कहा कि एक साल तक ऑनलाइन शिक्षण और वर्कशीट आदि के माध्यम से बच्चों को पढ़ाने का प्रयास किया गया। इसके सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। कक्षा 1 से 8 तक का ई-कांटेट भी तैयार कराया गया है। जिससे बच्चों को लाभ होगा। जिला शिक्षा अधिकारी प्राथमिकता डॉ. विद्या शंकर चतुर्वेदी ने कहा कि कोरोना की विषम परिस्थितियों में जो बच्चों का जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई शिक्षक शीघ्र करेंगे।

उन्होंने कहा कि बच्चों का स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता है। इस मौके पर खंड शिक्षा अधिकारी श्रीकांत पुरोहित, जिला समन्वयक डॉ. संतोष चमोला, सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य नरेश चैहान, अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के जिला समन्वयक दीपक दीक्षित, अरुण नौटियाल, राजीव आर्य, सरस्वती पुंडीर, कमलेश पंवार, रविंदर रोड, पंकज चैहान, पूनम राणा, अजय शर्मा, हेमेंद्र चैहान, योगेश, असमा सुबहानी आदि मौजूद रहे।